26 July 2012

Latest THIRD GRADE News : जोधपुर : ग्रेड थर्ड शिक्षक भर्ती: गलत रोल नंबर भरने से परीक्षा नहीं देने वाले भी पास!

Rajasthan Third grade teacher recruitment rajpanchayat
जोधपुर.तृतीय श्रेणी शिक्षक बन कर बच्चों को पढ़ाने का सपना देखने वाले कई अभ्यर्थी परीक्षा में रोल नंबर ही सही नहीं भर पाए। ऐसे में परीक्षा नहीं देने वाले न केवल पास हो गए, बल्कि चयन सूची में भी उनका नाम आ गया। 

पंचायतराज विभाग की ओर से जिला स्तर पर आयोजित तृतीय श्रेणी शिक्षक भर्ती परीक्षा में ऑनलाइन आवेदन के बाद परीक्षा के समय कई परीक्षार्थियों द्वारा ओएमआर शीट में रोल नंबर ही गलत भर दिए गए। इससे परीक्षा तो उन्होंने दी, लेकिन चयन सूची में नाम किसी और का आ गया। 

जिला परिषद के परीक्षा प्रकोष्ठ ने जब गलती से चयनित अभ्यर्थियों को मूल दस्तावेज जांच की तारीख के दिन अनुपस्थित रहने का नोटिस भेजा तो उन्होंने खुलासा किया कि उन्होंने परीक्षा ही नहीं दी तो दस्तावेज की जांच कराने क्यों आएं? 

जिला परिषद के परीक्षा प्रकोष्ठ के अधिकारी जवाब सुन कर दंग रह गए और मामले की जांच की। इसमें जोधपुर में ही आधा दर्जन ऐसे अभ्यर्थी सामने आए जो रोल नंबर गलत भर देने के कारण पास होते हुए चयन सूची में अपना नाम दर्ज कराने से वंचित रह गए। 

इनको कैसे पड़ी गलती भारी

परीक्षार्थी : विमला, जोधपुर 

रोल नंबर : 71105239

ओएमआर शीट में लिखे : 71105236 

मेरिट में स्थान : 1367 

असर क्या हुआ :

विमला के स्थान पर महेंद्र सिंह सूची में आ गया।

परीक्षार्थी : रेणु, चूरू

रोल नंबर : 71106340

ओएमआर शीट में लिखे : 7110340 

मेरिट में स्थान : 609

असर क्या हुआ :

रेणु के स्थान पर रेणु कुमारी, जो अनुपस्थित थी,चयन सूची में शामिल हुईं।

इन्होंने भी भरे गलत नंबर 

गलत रोल नंबर भरे : चयन इनका

मीना देवी मौर्य : अनिल कुमार 

मधु शर्मा : राकेश मीणा

रीतू दीक्षित : भभूतराम 

रामपाल : प्रतिभा मीणा

विमला सोनगरा : महेंद्र सिंह 

रेणु : रेणु कुमारी

सूची भेजकर मार्गदर्शन मांगा है

'तृतीय श्रेणी परीक्षा में जोधपुर में छह ऐसे परीक्षार्थी चिह्न्ति किए गए हैं, जिन्होंने गलत रोल नंबर लिख दिए थे, इस कारण परिणाम बदल गया। इस संबंध में राज्य सरकार को सूची भेजकर मार्गदर्शन मांगा है।'

परमेश्वरन बी., सीईओ, जिला परिषद जोधपुर

47 comments:

V.K.Yadav/Ghazipur. +918400924785 said...

All tet pass candidates join here.

V.K.Yadav/Ghazipur. +918400924785 said...

Mai Muskan/Blog editor ji ke blog band karne ke baad tet pass candidates ko news dene yaha aa gaya hun.THANKS

D.K said...

v.k ji namastey, mera ek friend btc2004 ka hai.vo bahut avsaad me ji raha hai mujhe dar h ki vo kahi kuch kar na le. Kya tum bata sakte ho ki btc 4 walo ki joining ke baare me kya information h.plz jarur batana. Hamare baare me 6 aug ko court ka kya rukh rahega.
Jai maa vaishno.

V.K.Yadav/Ghazipur. +918400924785 said...

See this news-
टीईटी 2012 : शासन ने एससीईआरटी से
मांगा प्रस्ताव
बेसिक शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया शुरू
•लखनऊ। शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी)
2011 का विवाद खत्म होने के बाद अब टीईटी-2012 की तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। शासन ने राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं
प्रशिक्षण परिषद (एससीईआरटी) से एक सप्ताह में प्रस्ताव मांगा है कि टीईटी का आयोजन कब
और किस प्रक्रिया के तहत किया जाएगा। वहीं, कैबिनेट निर्णय के बाद बेसिक शिक्षा परिषद में
शिक्षकों की भर्ती के लिए तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। इसके लिए सबसे पहले उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा अध्यापक सेवा नियमावली में संशोधन किया जाएगा। संशोधन होने के तुरंत बाद शिक्षकों की भर्ती के लिए जिला स्तर पर विज्ञापन निकाल कर आवेदन मांगे जाएंगे।
राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (एनसीटीई) ने कक्षा आठ तक के स्कूलों में
शिक्षकों की भर्ती के लिए टीईटी अनिवार्य कर दिया है। राज्य सरकार को हर साल जुलाई में टीईटी आयोजित करानी है। यूपी में पहली बार टीईटी नवंबर 2011 में आयोजित कराई गई। इसमें गड़बड़ी होने के बाद इस नए सत्र यानी 2012 में टीईटी समय से आयोजित नहीं कराई जा सकी। राज्य सरकार ने
टीईटी-2011 पर निर्णय कर लिया है कि इसे रद नहीं किया जाएगा और यह
पात्रता परीक्षा ही रहेगी। इसके बाद वर्ष 2012 में टीईटी आयोजित कराने के लिए एससीईआरटी से प्रस्ताव मांगा गया है।
माना जा रहा है कि टीईटी अक्तूबर या नवंबर में आयोजित कराई जाएगी।
इसके अलावा बेसिक शिक्षकों की भर्ती के लिए
अध्यापक सेवा नियमावली में संशोधन की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। प्रमुख सचिव
बेसिक शिक्षा सुनील कुमार ने इस संबंध में विभागीय अधिकारियों को निर्देश दे दिया है।
शिक्षकों के रिक्त पदों पर भर्ती करने से पहले अध्यापक सेवा नियमावली में संशोधन किया जाना है। संशोधित नियमावली को कैबिनेट से मंजूरी के बाद
शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

V.K.Yadav/Ghazipur. +918400924785 said...

@D.K. ji mere mobile ki battery low hai phir bhi mai aapko bata deta hun suniye-
BTC 2004 Ki joining August ke last week ya September ke first week tak start hone ki 100% sambhawna hai esliye aap apne mitra se kahiye ki wah nirash n ho balki roj roj BADA WALA LADDOO khaye aur enjoy kare.
Aur rah gayi 6 August wali baat to sabra karen sab thik hi hoga.

D.K said...

ye sab aapas me kyo lad rahe hai.bharti jaise b ho hone do. Ek bar socho yadi tet radd ho jata to tab kiski bharti ho jati. Ab to tumhare pass chance b h tet radd hone par sab chance khatm ho jate. Apne sath2 dusro k bare me b sochna chahiye. Is duniya me bahut2 dukhi b hai.
Jai maa vaishno.

krishna said...

U r right d. k. sir.

krishna said...

Sir plz btaiye is bharti prakria m koi adchan to ni ayegi.or ye bharti kb tk start hone ki smbhawna he.

V.K.Yadav/Ghazipur. +918400924785 said...

इंटर पास शिक्षामित्रों को ट्रेनिंग के लिए मांगी मंजूरी
Updated on: Wed, 25 Jul 2012
09:01 PM (IST)
- बेसिक शिक्षा विभाग ने एनसीटीई को भेजा पत्र
जागरण ब्यूरो, लखनऊ : प्रदेश में इंटरमीडिएट
उत्तीर्ण 48 हजार शिक्षामित्रों को दूरस्थ
शिक्षा के माध्यम से दो वर्षीय
बीटीसी ट्रेनिंग दिलाने के लिए बेसिक
शिक्षा विभाग ने राष्ट्रीय अध्यापक
शिक्षा परिषद (एसीटीई) से अनुमति मांगी है।
इस संबंध में विभाग ने एनसीटीई के सदस्य सचिव
विक्रम सहाय को पत्र भेज दिया है।
पत्र में इंटरमीडिएट उत्तीर्ण
शिक्षामित्रों की दो वर्षीय ट्रेनिंग जुलाई
2013 से शुरू कराने की मंशा जतायी गई है।
राज्य में बेसिक शिक्षा परिषद द्वारा संचालित
प्राथमिक स्कूलों में शिक्षक नियुक्त होने
की शैक्षिक योग्यता स्नातक व बीटीसी है
जबकि एनसीटीई द्वारा निर्धारित
अर्हता इंटरमीडिएट और बीटीसी है।
इसी आधार पर विभाग ने इंटरमीडिएट उत्तीर्ण
शिक्षामित्रों को दूरस्थ शिक्षा विधि से
बीटीसी कराने के लिए एनसीटीई से आग्रह करने
का इरादा जताया है।
विभाग की मंशा है कि दो वर्षीय ट्रेनिंग
पूरी करने वाले इंटरमीडिएट उत्तीर्ण
शिक्षामित्र जैसे-जैसे स्नातक
की योग्यता हासिल करते जाएंगे, वैसे-वैसे उन्हें
नियमित शिक्षक के तौर पर नियुक्त
किया जाएगा। पत्र में विभाग ने एनसीटीई
को बताया है कि स्नातक योग्यताधारी 62
हजार शिक्षामित्रों की ट्रेनिंग जुलाई 2013
के पूर्व निर्धारित कार्यक्रम की बजाय अब
जुलाई/अगस्त 2012 से ही शुरू होगी। गौरतलब
है कि एनसीटीई ने 14 जनवरी 2011
को प्रदेश के 1.24 लाख स्नातक
शिक्षामित्रों को दो वर्षीय ट्रेनिंग दिये जाने
की अनुमति दी थी।

V.K.Yadav/Ghazipur. +918400924785 said...

स्नातक शिक्षामित्रों के दूसरे बैच की ट्रेनिंग जल्द
Updated on: Wed, 25 Jul 2012
09:04 PM (IST)
- शासनादेश जारी
जागरण ब्यूरो, लखनऊ : दो वर्षीय ट्रेनिंग पूरी करते ही शिक्षामित्रों को नियमित
शिक्षक बनाने के कैबिनेट के फैसले के तहत बेसिक
शिक्षा विभाग ने बुधवार को शासनादेश जारी कर दिया है। शासनादेश के मुताबिक स्नातक योग्यताधारी 62 हजार शिक्षामित्रों के दूसरे
बैच की दो वर्षीय ट्रेनिंग जुलाई 2013 की बजाय जुलाई/अगस्त 2012 से शुरू की जाएगी। वहीं इंटरमीडिएट उत्तीर्ण 48
हजार शिक्षामित्रों की ट्रेनिंग जुलाई 2013 से शुरू होगी। ट्रेनिंग पूरी करने वाले
इंटरमीडिएट उत्तीर्ण शिक्षामित्र जैसे-जैसे
स्नातक योग्यता हासिल करते जाएंगे, वैसे-वैसे
उन्हें नियमित शिक्षक के रूप में तैनात किया जाएगा।

Shabbir hussain said...

Up

Shabbir hussain said...

Javed usmani ne nakalchio se rishwat li h.

Shabbir hussain said...

Mayawati ki to sirf aaz murti tuti h lekin akhilesh khud toot jaiga ,garibo haye ise bhasam kar degi.

D.K said...

dosto jara sochkar dekho agar tet nirast ho jata tab tum apne aapko kahan paate. Kudrat ne hum sabko ek moka diya h jiska hame laabh lena chahiye or job ki tyyari karni chahiye. According to amar ujala tet ka exam jaldi hoga.
Jai maa vaishno.

Shabbir hussain said...

Tet to ab nirast hoga.

alok srivastava said...

निर्णायक जंग को तैयार टीईटी अभ्यर्थी-
सरकार के फैसले से क्षुब्ध यूपीटीईटी उत्तीर्ण अभ्यर्थियोँ ने निर्णायक जंग की तैयारी कर ली है। दिनांक 29-07-2012 को टीईटी संघर्ष मोर्चा उ॰प्र॰ ने लखनऊ मेँ विधानसभा के पास दारुलनुशा पर पर प्रदर्शन तथा अनिश्चितकालीन आमरण अनशन करने का निश्चय किया है तथा पूरे प्रदेश के टीईटी अभ्यर्थियोँ से इस कार्यक्रम मेँ पँहुचने का आह्वाहन किया है। टीईटी संघर्ष मोर्चा उ॰प्र॰ के सभी टीईटी अभ्यर्थियोँ से निवेदन करता है कि अपने हक की लडाई को और मजबूती प्रदान करने के लिए भारी संख्या मेँ लखनऊ पँहुचेँ और इस कार्यक्रम को सफल बनाएँ। यह लडाई किसी एक की नहीँ वरन हम सब के अधिकारोँ की है और हम सब को अपने अर्न्तात्मा की आवाज सुनते हुए सत्य का साथ देना चाहिए।
आपका साथी-
आलोक जौनपुरी।

ravi pal said...

ha. Bilkul

Anonymous said...

Bhut kam log pehale 60% se jyada pate the

Prinjana said...

समाजवादी पार्टी का जो भी कार्य है वह पिछली सरकार के विद्वेष की भावना से ग्रसित होकर लिया गया निर्णय है, uptet 2011 का जो परीक्षा हुइ है, वैसी निष्पक्ष परीक्षा वह खुद कराने मे असमर्थ है। जो 2012 की tet परीक्षा इसका सबूत होगी।
क्या मूर्ति को तोङ देना भी सरकार के विद्वेष की भावना को प्रदर्शित नही करती। इस सपा सरकार को 2014 का लक्ष्य सपना है।

Salim bhai said...

Ise sal jisko nam bhi nhi likhne aata wo 80 % se jyada paya hai. Mulaum ka hal lalu jaisa hoga. Akhilesh ki mirtu cancer se hogi. Ye satya logo ki aah hai.jai maa vashno .

Shabbir hussain said...

Delhi hani durasth.dilli abhi door h.usse pahle hi mulayam ko keede kha jayenge.aur akhilesh ko nischit hi blood cancer ho jaiga.

Shabbir hussain said...

Dosto 29 july ko lucknow chalo ek anshan abhi baki h.usse bhi baat na bane to hum hc w sc apeal karenge aur akhilesh nakalchi ko uske maksad me kamyab nahi hone denge.

Anonymous said...

vk yadav ji kya Arun Tandaon TET case se nikal gaye hai?

Tet merit sena said...

Kash!yadav akhilesh kee accident ho jaye.Ab tet merit sena banegi.chanda ikthha kar GUN kharida jayega.all diet bumb se uraya jayega.Is per aam sahmti ak meetig me lee jayegi.after 6aug.

D.K said...

mere dosto yadi hum sabko anshan karne se, hc ya sc jaane se job 2 month me mil jayegi to hum sab tyyar hai.ye india h mere bhai yahan par anna jaiso ko anshan karte2 kai saal ho jayengi lekin result zero. Pyare dosto in sab ke chakkar me hamare kai dost bichad jayenge. Jara sa garibo ke baare me socho.bharti latakne se koi labh nahi hoga.
Jai maa vaishno.

D.K said...

mere dosto yadi hum sabko anshan karne se, hc ya sc jaane se job 2 month me mil jayegi to hum sab tyyar hai.ye india h mere bhai yahan par anna jaiso ko anshan karte2 kai saal ho jayengi lekin result zero. Pyare dosto in sab ke chakkar me hamare kai dost bichad jayenge. Jara sa garibo ke baare me socho.bharti latakne se koi labh nahi hoga.
Jai maa vaishno.

Shabbir hussain said...

Bharti ya to tet merit se hogi nahi to yeh bharti 100% latkegi.jahil akhilesh garibo ka bhala nahi nakalchio ka bhala karna chahta h.

jitendra giri said...

g

jitendra giri said...

g

alok srivastava said...

D. K. Ji jara un garibon ka sochie jinhone karz le kr DD banyaya aur form fill up kiya. Bhayankar Jade ki raat me raat bhar RMS pr khade ho kr form jama kiya aur ab overage ho gaye. Is baat ki kya garanti hai ki purani vigyapti radd kr k niyi vigyapti aane se bharti 2month me hi ho jayegi aur ab koi pench nhi phasega. Sarkar kisi ki bhi ho vo sirf apna ullu sidha krti hai. Hm berojgaaron ka kisi ko parvah nhi. Hame bharosaKeval court pr hai sarkar pr nhi. Vigyapti radd nhi hogi. Ye bharti is vigyapti pr hogi. HC se hogi to accha hai nhi to supreme court se hi hogi.

jitendra giri said...

vk sir is blog ke bare me jyada se jyada logon ko kaise bataya jay

jitendra giri said...

vk sir blog ke bare me batane ke li ye thanks koi news ho to please share karen

Shabbir hussain said...

Jab ncte ne tet ko "adhyapak patrata pariksha"rakha h tab up isko "adhyapak aharkari pariksha" kaise kar sakti h.jabki patrata me abhyarthi kewal patra mana jata h jabki aharta me wtz diya jata h .koi plz clear karo...ki yeh point ..,

Shabbir hussain said...

Jab ncte ne tet ko "adhyapak patrata pariksha"rakha h tab up isko "adhyapak aharkari pariksha" kaise kar sakti h.jabki patrata me abhyarthi kewal patra mana jata h jabki aharta me wtz diya jata h .koi plz clear karo...ki yeh point ..,

V.K.Yadav/Ghazipur. +918400924785 said...

@Anonyms ji,abhi kuchh bhi clear nahi hai ki hamara case Arun tandon dekhenge ya v.k.shukla,ye baate monday-tuesday tak clear ho jayengi.

V.K.Yadav/Ghazipur. +918400924785 said...

सीबीएसई से टीईटी पास भी यूपी में बन सकेंगे शिक्षक
लखनऊ। राज्य सरकार ने केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा परिषद (सीबीएसई)
द्वारा आयोजित शिक्षक
पात्रता परीक्षा (टीईटी) पास करने वाले को भी यूपी में शिक्षक बनने के लिए
पात्र मान लिया है। इसके लिए बेसिक शिक्षा परिषद अध्यापक सेवा नियमावली में प्रावधान किया जाएगा। इसके साथ ही टीईटी को पात्रता परीक्षा मानने
संबंधी कैबिनेट के निर्णय पर प्रमुख सचिव बेसिक शिक्षा सुनील कुमार ने गुरुवार को शासनादेश जारी कर दिया है।
यूपी में 72 हजार 825
शिक्षकों की भर्ती के लिए नवंबर 2011 में टीईटी आयोजित की गई थी। इसमें
गड़बड़ी की शिकायत पर मुख्य सचिव जावेद उस्मानी की अध्यक्षता में उच्च स्तरीय कमेटी बनाते हुए रिपोर्ट मांगी गई। मुख्य
सचिव की रिपोर्ट के आधार पर इसे पात्रता परीक्षा मानने का प्रस्ताव कैबिनेट से पास कराया गया। प्रमुख सचिव बेसिक शिक्षा ने कैबिनेट निर्णय के आधार
पर शासनादेश जारी किया है। इसमें कहा गया है कि टीईटी, पात्रता परीक्षा होगी। इसे पास करने वाला ही बेसिक स्कूलों में शिक्षक बनने के लिए पात्र माना जाएगा। इसके साथ सीबीएसई की ओर से आयोजित टीईटी पास
भी यूपी में शिक्षक बनने के लिए पात्र माना जाएगा। इसके लिए सहायक
अध्यापकों की नियुक्ति के लिए अध्यापक सेवा नियमावली के 12वें संशोधन में शैक्षणिक योग्यता के आधार पर चयन की पूर्व व्यवस्था बहाल की जाएगी।
शासनादेश में कहा गया है कि छह माह के विशिष्ट बीटीसी प्रशिक्षण के लिए
चयनित बीएड कॉलेजों को भी अधिकृत किया जाए। टीईटी से संबंधित
किसी अनियमितता, आपराधिक गतिविधियों में लिप्त पाए जाने वालों को शिक्षक भर्ती प्रक्रिया के लिए प्रतिबंधित किया जाएगा और उसका चयन
निरस्त किया जाएगा। इसके साथ ही टीईटी-2012 को छह माह के अंदर कराए जाने के लिए जरूरी तैयारियां करने को कहा गया है। पूरे प्रकरण की विभागीय जांच के लिए प्रस्ताव मांगा गया है।
टीईटी कौन आयोजित कराएगा इसके लिए
अलग से प्रस्ताव मांगा गया है।
•टीईटी को पात्रता परीक्षा बनाने का शासनादेश जारी
•टीईटी-2012 को छह माह के अंदर कराने की तैयारियां शुरु

V.K.Yadav/Ghazipur. +918400924785 said...

अगली शैक्षिक पात्रता परीक्षा छह माह के भीतर
-टीईटी को अर्हकारी परीक्षा बनाने के
लिए शासनादेश जारी
-बढ़ेगी बीएड अभ्यर्थियों के चयन के लिए निर्धारित तिथि
जागरण ब्यूरो, लखनऊ : बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक स्कूलों में शिक्षकों की भर्ती के लिए बीते वर्ष
आयोजित अध्यापक
पात्रता परीक्षा (टीईटी)-2011 को अर्हकारी परीक्षा बनाने के मंत्रिपरिषद के निर्णय पर प्रदेश सरकार ने गुरुवार को शासनादेश
जारी कर दिया। इसमें छह महीने के भीतर अध्यापक
पात्रता परीक्षा-2012 आयोजित करने का निर्देश भी है।
आदेश में कहा गया है कि अध्यापक पात्रता परीक्षा अर्हकारी ही रहेगी।
साथ ही निर्देश दिया कि भारत सरकार की ओर से बीएड अभ्यर्थियों के चयन के लिए पूर्व निर्धारित 1 जनवरी 2012 की तिथि 31 मार्च 2015 तक बढ़ाने
का निर्णय यथा शीघ्र कराया जाए।
टीईटी के साथ ही केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा परिषद की ओर से ली गई पात्रता परीक्षा को भी नियमों में
संशोधन कर अर्हकारी मान लिया जाए।
आदेश में स्पष्ट किया गया है कि सहायक अध्यापकों की नियुक्ति के लिए बारहवें
संशोधन के पूर्व शैक्षणिक योग्यता के आधार पर वेटेज की व्यवस्था को बहाल
किया जाए और छह माह के विशिष्ट बीटीसी प्रशिक्षण हेतु चयनित बीएड कालेजों को अधिकृत किया जाए। जांच में अभ्यर्थियों का नाम अनियमितता में आने पर चयन रद कर दिया जाएगा

V.K.Yadav/Ghazipur. +918400924785 said...

अगली शैक्षिक पात्रता परीक्षा छह माह के भीतर
-टीईटी को अर्हकारी परीक्षा बनाने के
लिए शासनादेश जारी
-बढ़ेगी बीएड अभ्यर्थियों के चयन के लिए निर्धारित तिथि
जागरण ब्यूरो, लखनऊ : बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक स्कूलों में शिक्षकों की भर्ती के लिए बीते वर्ष
आयोजित अध्यापक
पात्रता परीक्षा (टीईटी)-2011 को अर्हकारी परीक्षा बनाने के मंत्रिपरिषद के निर्णय पर प्रदेश सरकार ने गुरुवार को शासनादेश
जारी कर दिया। इसमें छह महीने के भीतर अध्यापक
पात्रता परीक्षा-2012 आयोजित करने का निर्देश भी है।
आदेश में कहा गया है कि अध्यापक पात्रता परीक्षा अर्हकारी ही रहेगी।
साथ ही निर्देश दिया कि भारत सरकार की ओर से बीएड अभ्यर्थियों के चयन के लिए पूर्व निर्धारित 1 जनवरी 2012 की तिथि 31 मार्च 2015 तक बढ़ाने
का निर्णय यथा शीघ्र कराया जाए।
टीईटी के साथ ही केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा परिषद की ओर से ली गई पात्रता परीक्षा को भी नियमों में
संशोधन कर अर्हकारी मान लिया जाए।
आदेश में स्पष्ट किया गया है कि सहायक अध्यापकों की नियुक्ति के लिए बारहवें
संशोधन के पूर्व शैक्षणिक योग्यता के आधार पर वेटेज की व्यवस्था को बहाल
किया जाए और छह माह के विशिष्ट बीटीसी प्रशिक्षण हेतु चयनित बीएड कालेजों को अधिकृत किया जाए। जांच में अभ्यर्थियों का नाम अनियमितता में आने पर चयन रद कर दिया जाएगा

Sajid Husain said...

Muddai (SP GOVT) laakh bura chaahe to kiya hota hai..
Wo hi hota hai jo manzoor e KHUDA hota hai.
Dosto apne case ko Supreme court tak le jana hai. Agr wahaa b insaaf na mila to samjh lena is mulk ko barbaad hone se koi nahi rok sakta. Humare Nabi Muhammad (saw) ka farman h k jis mulk k neta desh ka maal lootna shuru kr dete hein, adaalatein hukumato ki gulaam ho jati hein, to samjho wo mulk barbaadi ki tarf badh chuka.

mayank singh said...

Acd jindabad

mayank singh said...

Hoga to ab acd chahe sc jao ya kahi .sarkar jo chahegi wahi hoga.hc cort ka faoala hi sc sunati hai mostly .so selection only acd jai hind jai bharat

mayank singh said...

Acd jindabad

Shabbir hussain said...

Dosto govrmnt ko uski aukat dikha do.me hc jane ke liye me 5000 rs dene ke liye ready hoon.

Zara Shahid said...

uptet me select hone k liye acedmic merit minimum kitni honi chahiye...meri 185 h ...kya ye theek h

Shabbir hussain said...

Zara sahid g uptet acd ke liye-gen 245, obc 240 tak.

Shabbir hussain said...

Is blog par tetian nahi a rahe?

Ashu said...

aa rahe hai lo mai aagya

ShareThis